ई-पेपरग्राम पंचायतझारखंडपश्चिम बंगालबिहारराज्यो की खबरेंलाइव वीडियो

राज्य में बढ रही  जुल्म एंव हत्याओं  के खिलाफ  महाधरना  देगा बिहार निषाद संघ

पटना , (संवाददाता ) : पुनाईचक में अवस्थित बिहार निषाद संघ के प्रदेश कार्यालय में संध के प्रदेश कोर कमिटी की बैठक संघ के प्रदेश अध्यक्ष ई हरेन्द्र प्रसाद निषाद की अध्यक्षता में आयोजित की गई। संघ के कार्यकारी अध्यक्ष जलेश्वर सहनी ने कहा कि निषादो की लगातार हो रही जुल्म एंव हत्यायें से बिहार के निषाद दुखित एवं आक्रोशित है। बिहार निषाद संघ हताहत निषाद परिजनों को न्याय दिलाने हेतु संबंधित प्रशासन से गुहार लगा चुका है लेकिन प्रशासन के शिथिल रवैया के चलते संघ को धरना देने की जरूरत हो गया है संघ के प्रधान महासचिव धीरेन्द्र कुमार निषाद ने वर्षों से लंबित निषादो की तालाबों को अतिक्रमण से मुक्त करने एवं बन्दोबस्ती किये गये तालाबों की सुरक्षा प्रदान करने,बिहार राज्य मछुआरा आयोग का पुनर्गठन करने, निषाद गोताखोरों का नियमित नियुक्ति करने, नदियों के दियारेके खेती योग्य गैरमजरूआ जमीन की बन्दोबस्ती भूमिहीन निषादो के साथ करने साथ ही बालू खनन में निषादों के साथ कोटा निर्धारित करने, प्रतियोगी परीक्षा के लिए निषाद छात्र छात्राओं हेतु कोचिंग की व्यवस्था करने एवं निषादो पर लगातार हो. रही जुल्म एवं हत्या पर अंकुश लगाने इत्यादि पर अभी तक कोई सरकार द्वारा निर्णय नहीं लेने पर संघ को महाधरना देने की सख्त जरूरत है। मनोज कुमार ने मत्स्य पालन हेतु बन्दोबस्ती किये गये तालाबों की सुरक्षा की जिम्मेदारी अंचलाधिकारी एवंं थानाध्यक्ष को देने की मांग की । बैठक में सर्वसम्मति से संघ द्वारा लम्बित सात सूत्री मांगों हेतु पटना में धरना स्थल पर एक दिवसीय महाधरना देने का निर्णय लिया गया है बैठक में विनय कुमार निषाद, शशीभूषण कुमार, डॉ सतीश कुमार निषाद, सुरेश प्रसाद सहनी देशश जलज, रघुवीर महतो,रघुनाथ महतो सुरेस महतो निषाद भाग लिया।

Tags

Related Articles

Close