ग्राम पंचायतझारखंडपश्चिम बंगालबिहारराज्यो की खबरेंलाइव वीडियो

मैं लालटेन का नहीं रामविलास का चिराग हूं : चिराग पासवान

पटना, (संवाददाता): लोक जनशक्ति पार्टी(रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व जमुई सांसद चिराग पासवान जी ने जद(यू) के उस आरोप का कड़ा प्रतिवाद किया है जिसमें उन्हें लालटेन का चिराग कहा गया। उन्होंने इस संदर्भ में कहा कि मैं अपने पिता स्वर्गीय रामविलास पासवान का चिराग हूं।उन्होंने जद(यू) के नेताओं की उनपर तथा उनकी पार्टी पर की जा रही टिप्पणी पर मुस्कुराते हुए कहा कि मैं तो सत्ता में बैठे लोगों की राज्य को परिस्थिति को लेकर आईना दिखलाता रहता हूं, पर उन्हें बुरा लगता है तो मैं क्या करूं। उन्होंने कहा कि चिराग वहीं पहुंचता है जहां सरकार की विफलता होती है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता चंदन सिंह ने बताया कि सारण जिले में शराब से हुई मौत पर दुख जताते हुए लोजपा(आर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष आज पीड़ित परिवार से मिलने छपरा गयें। वहां जाने से पूर्व पटना में पत्रकारों से बातचीत करते हुए चिराग पासवान जी ने कहा कि बिहार में शराबबंदी कानून के विरोध में जहरीली शराब बनाने का काम शुरू हो गया है। लेकिन दुख और हैरानी की बात यह है कि राज्य सरकार अभी तक इस काम में लगे किसी गिरोह को नहीं पकड़ पायी है। उन्होंने कहा कि इसका मतलब यही है कि ऐसे गिरोह को सत्ता का संरक्षण प्राप्त है। चिराग पासवान जी ने कहा कि अपनों को खोकर रोती-बिलखती माताओं एवं बहनों को देखकर, मुझे काफी पीड़ा होती है। मैं तो अब इसे मौत नहीं हत्या मानता हूं। ऐसा इसलिए क्योंकि ऐसी घटनाऐं सरकार की अकर्मण्यता के कारण घट रही हैं। उन्होेंने कहा कि जबतक मुख्यमंत्री की कुर्सी पर नीतीश कुमार जी रहेंगे तबतक ऐसी घटनाऐं रूकने वाली नहीं हैं। उन्होंने कहा है कि लगातार बढ़ती आपराधिक घटनाऐं और शराब कांड से राज्य के लोग अब अपनी सुरक्षा के प्रति भी आश्वस्त नहीं हैं। लोजपा(आर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री जी सिर्फ वादा करना जानते है। ऐसे में उनसे बिहारियों के सपने पूरे किए जाने की उम्मीद नहीं की जा सकती। उन्होंने याद दिलाया कि आज तक उनके कार्यकाल में एक भी उस दलित परिवार के सदस्य को नौकरी नहीं दी गयी जिनके परिजन की हत्या हुई। जबकि नौकरी दिये जाने की घोषणा खुद मुख्यमंत्री जी ने की थी।

Tags

Related Articles

Close