ग्राम पंचायतझारखंडपश्चिम बंगालबिहार

केंद्र एवं राज्य में सरकार नाम की चीज नहीं है : राजद

पटना, (संवाददाता) : राजद के विधायक सह प्रवक्ता डॉ. रामानुज प्रसाद प्रदेश महासचिव भाई अरुण कुमार एवं अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रवक्ता इकबाल अहमद, एवं मनोज यादव ने संयुक्त प्रेस बयान जारी कर कहा कि देश में एवं प्रदेश में सरकार नाम की कोई चीज नहीं है । मिसिंग गवर्नमेंट ऑफ इंडिया एंड बिहार माननीय उच्चतम न्यायालय का जो हाल में टिप्पणी आई है वह सरकार के लिए डूब मरने की बात है सुप्रीम कोर्ट ने अपनी टिप्पणी में सरकार को आंख खोल कर देखने की बात कही।इसका मतलब सरकार गहरी निंद्रा में सोई हुई है एक और पूरे देश में वैक्सीन की कमी है जिसके कारण लोगों को वैक्सीन लग नहीं रही भारत में 20 से 25 लाख लोगों का प्रतिदिन वैक्सीनेशन हो रहा है जबकि चीन में प्रत्येक दिन 1 करोड़ 70 लाख लोगों को वैक्सीन की डोज लग रही है, कोरोना के तीसरी लहर की दस्तक सुनाई दे रही है । केंद्र की सरकार टीका उत्सव मना रही है बिहार की सरकार टीका एक्सप्रेस रवाना कर रही है परंतु टीका ही गायब है क्या इस प्रकार से कोरोना की तीसरी लोहार को रोका जा सकेगा अभी भी  कोरोना पूरी तरह से काबू नहीं पाया जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर भारत की अर्थव्यवस्था पटरी से नीचे खसक गई और सरकार का विकास दर -7. 3 पहुंच गई देश में करीब एक करोड़ से ज्यादा लोगों की नौकरियां चली गई है 97% परिवारों की मासिक आय घट गई है मई में बेरोजगारी दर बढ़कर14.7 प्रतिशत हो गई वहीं भारत की जीडीपी-7 . 7 रहने का अनुमान है, जिसके कारण भारत में महंगाई सिरसा की तरह मुंह भाकर खड़ी है।

वहीं बिहार में भी सत्ता की आपसी खींचतान में सरकार काम नहीं कर रही है बिहार में ना ही पढ़ाने के लिए शिक्षक है ना इलाज के लिए डॉक्टर हैं और ना युवाओं के लिए रोजगार है पूरी तरह से राज्य सरकार केंद्र के रहमो करम पर टिकी हुई है परंतु केंद्र की सरकार राज्य की ओर वक्र दृष्टि से देख रही है जिसके कारण ना विकास हो रहा है ना इलाज हो रहा है ना पढ़ाई हो रही है केंद्र और राज्य की सरकारें जनता की ना जान बचा रही है ना जहान बचा रही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close