ग्राम पंचायतझारखंडपश्चिम बंगालबिहार

एनएमसीएच में स्वास्थ्य कर्मी और दवाओं की भारी कमी: पप्पू यादव

पटना, (संवाददाता) : बिहार में कोरोना के बढ़ते मामलों से निपटने के लिए एनएमसीएच को राज्य सरकार ने कोविड अस्पताल घोषित कर दिया है। एनएमसीएच की व्यवस्था का जायजा लेने सोमवार को जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव अस्पताल पहुंचे और अधीक्षक विनोद कुमार सिंह से मुलाकात की।

मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए पप्पू यादव ने कहा कि एनएमसीएच को सरकार ने कोरोना अस्‍पताल तो घोषित कर दिया है लेकिन इलाज के लिए अस्पताल को कुछ भी नहीं दिया है। अस्‍पताल की ओर से डॉक्‍टर, स्वास्थ्य कर्मी और रेमडेसिविर दवा उपलब्‍ध कराने के लिए सरकार से मांग की गई है लेकिन अब तक यहां कुछ भी उपलब्‍ध नहीं कराया गया है।

उन्होंने कहा कि ऐसी खराब व्यवस्था में यह सवाल उठता है कि क्‍या सिर्फ कोरोना अस्‍पताल घोषित करने से कोरोना खत्‍म हो जायेगा? राज्य सरकार अस्‍पताल द्वारा की गई मांगों को पूरा करने में अक्षम है। पप्पू यादव ने कहा कि एनएमसीएच अस्पताल में एक पर्चा चिपका दिया गया है कि रजिस्ट्रेशन बंद है और बेड उपलब्ध नहीं है। ये हाल है बिहार के कोविड अस्पताल का। यह सब स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही का नतीजा है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close