झारखंडपश्चिम बंगालबिहारराज्यो की खबरें

परगना जिले में एक पार्टी कार्यकर्ता और उसकी बुजुर्ग मां को तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पीटा

पश्चिम बंगाल, (संवाददाता) : पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान होने के बावजूद भी राज्य से लगातार हिंसा की घटनाएं सामने आ रही हैं। बीजेपी ने आरोप लगाया कि बंगाल के उत्तरी 24 परगना जिले में एक पार्टी कार्यकर्ता और उसकी बुजुर्ग मां को तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पीटा। इस घटना के बाद कोलकाता की सड़कों पर बीजेपी कार्यकर्ता की बुजुर्ग मां के पोस्टर लगाए गए हैं। पोस्टर में पूछा गया है कि क्या वह बंगाल की बेटी नहीं है? पोस्टर में पूछा गया है कि क्या वह बंगाल की बेटी नहीं है? बीजेपी नेताओं ने इन पोस्टर को अपने ट्विटर पर साझा किया है।

गौरतलब है कि चुनावों के मद्देनजर टीएमसी ने नारा दिया कि ‘बंगाल को चाहिए अपनी बेटी’। इसके जवाब में बीजेपी ने बंगाल की महिला बीजेपी नेताओं को आगे करते हुए नौ महिला नेताओं का पोस्टर जारी करते हुए कहा था कि बंगाल को अपनी बेटी चाहिए, बुआ नहीं। इस पोस्टर में बीजेपी ने ममता बनर्जी को बुआ के रूप में दिखाया है। बीजेपी ने रविवार को आरोप लगाया कि उत्तरी 24 परगना जिले में एक पार्टी कार्यकर्ता और उसकी बुजुर्ग मां को तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पीटा। बीजेपी ने सोशल मीडिया पर महिला का चेहरा पोस्ट किया और लिखा कि बंगाल के लोग उन लोगों को माफ नहीं करेंगे जिन्होंने बंगाल की बेटी पर हमला किया। तृणमूल कांग्रेस प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन ने ट्वीट किया कि तृणमूल कांग्रेस सकारात्मक अभियान चला रही है। बीजेपी बदहवास है। उसके पास सुशासन के मोर्चे पर ममता बनर्जी का मुकाबला करने के लिए कुछ नहीं है। बंगाल को तो अपनी बेटी चाहिए। उन्होंने लिखा कि कहां तक वे जाते हैं? मनगढंत,  धोखा,  कुछ भी नहीं छोड़ा। यहां तक बुजुर्ग को भी नहीं। फर्जी खबर फैक्टरी, फिर बेनकाब।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close