Breaking Newsझारखंडबिहार

किसानों के समर्थन में एनडीए के खिलाफ आर-पार की लड़ाई लड़ेगीः तेजस्वी यादव

पटना, (संवाददाता) : किसानों के हृदय सम्राट पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह के जयंती को किसान दिवस के रूप में मनाते हुए प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि देश के अन्नदाता किसान एनडीए के मोदी सरकार के काले कृषि कानून के खिलाफ धरना पर बैठे हुए हैं। किसानों के समर्थन में राजद एनडीए सरकार के खिलाफ आर-पार की लड़ाई लड़ेगी। इसके लिए राजद की ओर से हर जिले एवं प्रखंडों में धरना प्रदर्शन किया जायेगा।उन्होंने केन्द्र व राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि एक तरफ किसान नये कृषि कानून के खिलाफ धरना पर हैं। वहीं केन्द्र सरकार के मंत्री व सांसद अन्नदाता को गालियां दे रहे हैं। कोई खालिस्तान कहता है तो कोई टुकड़-टुकड़े कहकर किसानों के मनोबल गिरा रहे हैं। किसानों का सवाल एमएसपी को लेकर है इस पर केन्द्र सरकार ने एजेंडे को चर्चा व विमर्श नहीं किया।

जिस तरह देश में बीएसएनएल, एयरपोर्ट जैसे कई निजीकरण कर दिया उसी तरह कृषि को पहले बजार समिति को खत्म कर किसानों को मजदूर बना दिया। अब सरकार नये कृषि सुरक्षा कानून के माध्यम से किसानों को भिखारी बनाने पर अमादा है। इसको लेकर राजद किसानों के समर्थन में एनडीए सरकार के खिलाफ आर-पार की लड़ाई लड़ेगी। केन्द्र सरकार के मंत्री किसानों से वार्ता न कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के घर पहुंच कर सलाह-मशविरा कर रहे हैं। हम उनसे पूछना चाह रहे हैं कि नीतीश जी बाजार समिति को खत्म कर बिहार की आय कितना है। सरकारी आंकड़े के अनुसार झारखंड से भी नीचे चला गया है। देश में कैसी विकास हो रही है। नीतीश सरकार ने तो किसानों, नौजवानों, व्यवसायियों, शिक्षकों एवं ‌बेरोजगारों को बर्बाद कर दिया।बिहार के लगभग 70 प्रतिशत लोग कृषि कार्य पर निर्भर है उसमें बाजार समिति को खत्म कर किसानों को मजदूर बनाकर छोड़ दिया अब वे नये कानून को लाकर भिखारी बनाने पर तुले हैं। इस किसान आन्दोलन में 18 किसान शहीद हो गये उसमें एनडीए के नेताओं व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार न तो सहानुभूति और न कोई टिप्प्णी कर श्रद्घांजलि दी। इससे स्पष्ट है कि केन्द्र व राज्य सरकार किसान एवं मजदूर विरोधी है अपने हक एवं आजीविका को बचाने की लड़ाई लड़ने वाले अन्नदाता के प्रति सरकार के दिल में कोई जगह नहीं है। किसान आन्दोलन पर है और केन्द्र सरकार के मंत्री पूरे देश में किसान पंचायत लगाने में लगे हुए हैं। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष जगतानंद सिंह, राजद के वरिष्ठ नेता अशोक सिंह, पूर्व मंत्री अब्दुलबारी सिद्दीकी, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी समेत भारी संख्या में अन्य लोग मौजूद थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close